विदेशी मुद्रा हेजिंग रणनीति

Platform ऐप

Platform ऐप

Welcome to the Current Affairs Section of Adda247. If you are preparing for Government Job Exams, then it is very important for you to read the Daily Current Affairs. All the important updates based on current affairs are included in this Daily Current Affairs 2022 article.

Platform ऐप

दीक्षा (नॉलेज इंफ्रास्ट्रक्चर फॉर नॉलेज शेयरिंग) को औपचारिक रूप से भारत के माननीय उपराष्ट्रपति द्वारा 05 सितंबर 2017 को लॉन्च किया गया था।

छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के लिए:

दीक्षा पोर्टल Platform ऐप Platform ऐप की विशेषताएं:

छात्रों की सहज पहुँच के लिए दीक्षा पोर्टल की कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएं इस प्रकार हैं:

  1. क्यूआर कोड - शिक्षकों और छात्रों के लिए राष्ट्रीय डिजिटल अवसरचना एनसीईआरटी पुस्तकों में प्रदान किए गए क्यूआर कोड को स्कैन करने के बाद एक्सेस किया जा सकता है। क्यूआर कोड को स्कैन करने के बाद, पोर्टल उन सुझावों और विषयों के साथ आएगा, जिन्हें आप अध्ययन करना चाहते हैं।
  2. भाषा - पोर्टल अंग्रेजी और विभिन्न भाषाओं में सुलभ है जिसमें हिंदी, मराठी, तमिल, तेलुगु, और ऐसी (18 भाषाएँ) शामिल हैं। आप अपनी सुविधा और सहजता के आधार पर कोई भी भाषा चुन सकते हैं।
  3. स्थान-आधारित - पोर्टल पहले उस स्थान के लिए पूछेगा जिसके आप संबंधित हैं। उदाहरण के लिए, आप एक विकल्प के रूप में दिल्ली को चुनते हैं, यह आपको आगे लोकेशन सब-लोकेशन ’साधनों को चुनने के लिए कहेगा जिसमें दिल्ली का इलाका मोजूद है। तदनुसार, यह आपको उस क्षेत्र में चल रहे पाठ्यक्रम दिखाएगा जहां से आप अपने कौशल सेट के अनुसार वांछित पाठ्यक्रम चुन सकते हैं।
  4. कक्षा आधारित - दीक्षा पोर्टल के लिए एक यूजर को उस क्लास को चुनना होता है जिसकी अध्ययन सामग्री वह प्राप्त करना चाहता है। उस कक्षा पर क्लिक करें जिसकी अध्ययन सामग्री आप परापत करना चाहते हैं और समबीट बटन दबाए।

दीक्षा मोबाइल ऐप:

दीक्षा पोर्टल एक उन्नत प्लेटफॉर्म है जो एनरॉयड और आईओएस उपयोगकर्ताओं के लिए भी उपलब्ध है। आप गुगल प्‍ले स्‍टोर से दीक्षा ऐप डाउनलोड कर सकते हैं। मोबाइल ऐप न केवल शिक्षकों बल्कि छात्रों और अभिभावकों के लिए भी उपलब्ध है। एप्लिकेशन को आकर्षक शिक्षण सामग्री के साथ लोड किया गया है जो निर्धारित स्कूल पाठ्यक्रम की जरूरतों को पूरा करता है।

Get DIKSHA Mobile App

एप की विशेषताएं

  • अध्‍यापकों द्वारा बनाई गई अंत:क्रिया सामग्री और छात्रों और शिक्षकों द्वारा भारत में, भारत द्वारा, भारत के लिए सर्वश्रेष्‍ठ भारतीय विषय- सामग्री रचनाकारों का पता लगाना।
  • पाठ्यपुस्‍तकों से क्‍यूआर कोड को स्‍कैन करना और विषय से संबंधित अतिरिक्‍त शिक्षण सामग्री तलाशना।
  • इंटरनेट कनेक्टिविटी के बगैर भी विषय वस्‍तु को ऑफलाइन संग्रहित व साझा करना।
  • स्‍कूल कक्षाकक्ष में पढ़ाई संबंधी पाठ व वर्कशीट का पता लगाना।
  • अंग्रेजी, हिंदी, तमिल, तेलुगु, मराठी, कन्‍नड़, असमिया, बंगाली, गंजराती, उर्दू और शीघ्र ही Platform ऐप अन्‍य भारतीय भाषाओं में ऐप का अनुभव।
  • वीडियो, पीडीएफ, एचडीएमएल, ईपब, एच5पी, प्रश्‍नोत्‍तरी जैसे बहुविषयक विषय सामग्री प्ररूपों में सहायता- अधिक प्ररूप शीघ्र उपलब्‍ध होंगे।

शिक्षक कैसे लाभांवित होंगे।

दीक्षा- नेशनल डिजिटल इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर फोर टीचर्स, मोबाइल ऐप के रूप में भी उपलब्‍ध है। इसमें कक्षाकक्ष अनुभव के सृजनार्थ पाठ, योजनाएं वर्कशीट वे गतिविधियां लोड की जाती हैं। पोर्टल से शिक्षक अपने करियर चक्र को समझ पाते हैं। स्‍कूल में कार्यभार ग्रहण करने से सेवानिवृत्ति तक, वे अपने करियर की प्रगति का मiनचित्रण व तदनुसार, अपने कौशल में सुधार ला सकते हैं।

शिक्षकों के लाभ

  • अपनी कक्षा को रुचिकर बनाने के लिए इंटरएक्टिव व दिलचस्‍प शिक्षण सामग्री का पता लगाना।
  • छात्रों को मुश्किल अवधारणाएं स्‍पष्‍ट करने के लिए सर्वश्रेष्‍ठ व्‍यवहार देखना व अन्‍य शिक्षकों के साथ साझा करना।
  • अपने व्‍यावसायिक विकास को सुधारने के लिए पाठ्यक्रमों में शामिल होना और इनके पूरा करने पर बैज व प्रमाणपत्र अर्जित करना।
  • स्‍कूल शिक्षक के रूप में अपने पूरे करियर का इतिहास देखना।
  • राज्‍य विभाग से आधिकारिक घोषणाएं प्राप्‍त करना।
  • पढ़ाए गए विषय के संबंध में अपने छात्रों की समझ की जांच करने के लिए डिजिटल मूल्‍यांकन करना।

छात्र कैसे लाभांवित होंगे ?

जिन छात्रों के पास दीक्षा ऐप है वे विषयों को सहज वे इंटरएक्टिव तरीके से समझ सकेंगे। ऐसी विशेषताएं हैं जिनसे पाठ में परिवर्तन किया जा सकता है। ऐप से छात्रों को स्‍व-मूल्‍यांकन व्‍यवहार अभ्‍यास से अपने शिक्षण की जांच करने में आसानी होगी।

अभिभावक कैसे लाभांवित होंगे?

Parents having access to DIKSHA app in their mobiles can follow classroom activities and clear doubts outside school hours. It is a comprehensive platform for hassle free interaction of all the stakeholders involved.

छात्रों और अभिभावकों के लिए लाभ

  • मंच पर संबद्ध पाठों की सहज प्राप्ति के लिए अपनी पाठ्यपुस्‍तकों में क्‍यूआर कोड स्‍कैन करना।
  • कक्षा में पढ़ाएं पाठ में सशोधन।
  • मुश्किल विषय से जुड़ी अति‍रिक्‍त सामग्री का पता करना।
  • सवालों को हल करना और इसका तुरंत फीडेबैक लेना कि उत्‍तर है या नहीं।

नमूना विषय सामग्री

शीघ्र आ रहा है।

  • ऐसी सभी ई विषय सामग्री का एक स्‍थान पर भंडारगृह का सृजन।
  • छात्रों व शिक्षकों के लिए ऑलाईन मूल्‍यांकन व प्रशिक्षण सौफ्टवेयर का विकास।
  • कृतिम बौद्धिकता और मशीन शिक्षण जैसी उन्‍नत प्रौद्योगिकी का उपयोग करने के लिए एक मंच की व्‍यवस्‍था।

This site is designed, developed, hosted and maintained by National Informatics Centre (NIC),
Department of Electronics & Information Technology, Ministry of Communications & Information Technology, GoI.
Contents provided by Ministry of Human Resource Development, GoI.

तुरंत डाउनलोड करें eCourts सेवा ऐप, घर बैठे प्राप्त करें न्यायालय से जुड़ी जानकारी Reading Time : 7 minutes -->

eCourts एक मोबाइल ऐप है, जिसकी सहायता से देश के सभी नागरिक जिला सत्र न्यायालय की सेवाएं, सभी न्यायालीन संकुलों की संख्या, Platform ऐप अधूरे केस, न्यायालीन आदेश तथा निर्णय समेत अपलोड की गई किसी भी केस की सूची से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। eCourts सर्विस आटोमेशन की तरफ बढ़ाया जाने वाला महत्वपूर्ण कदम है।

eCourts सेवा शुरू करने के पीछे का मुख्य उद्देश्य क्या है ?

eCourts सेवा नागरिक केंद्रित सेवाओं को तत्काल और समयबद्ध तरीके से उपलब्ध कराने के उद्देश्य Platform ऐप से शुरु की गई है। इस अभूतपूर्व कदम से न्यायिक प्रक्रिया में पारदर्शिता आएगी। इसके अलावा नागरिकों को केस की स्थिति की जानकारी त्वरित गति से प्रदान करना और रिकॉर्डस का लम्बे समय तक रख-रखाव करना है।

eCourts सेवा को सर्च इंस्टॉल कैसे करें ?

गूगल पर जाकर eCourts Services टाइप करें, इसके बाद eCourts Services – Apps on Google Play पर क्लिक करें, नया पेज खुलने के बाद इंस्टॉल ऑप्शन दिखाई देगा उस पर जाकर क्लिक कर दें। Platform ऐप आपके मोबाइल पर eCourts Services ऐप सफलतापूर्व इंस्टॉल हो जाएगा।

eCourts सेवा के अंतर्गत मिलने वाली सुविधाएं

eCourts सेवा ऐप के अधीन भारत के नागरिक विभिन्न न्यायालयों द्वारा प्रदान की जा रहीं ऑनलाइन सेवाओं की जानकारी, सूचनाएं और न्यायालयों में दायर मामलों से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इस ऐप का उपयोग डिफ़ॉल्ट रूप से जिला न्यायालयों के लिए निर्धारित होता है लेकिन आप जिला न्यायालय व उच्च न्यायालय दोनों के लिए कर सकते हैं। eCourts सेवा ऐप नागरिक, लिटिगेंट्स, वकील, पुलिस, सरकारी एजेंसियों और अन्य संस्थागत लिटिगेंट्स के लिए उपयोगी है। दावेदार और वकील अदालत में जाने से पहले इस ऐप का इस्तेमाल कर केस से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं और अपना कीमती समय बचा सकते हैं।

इसका उपयोग कैसे कर सकते हैं

eCourts ऐप के अंतर्गत सेवाओं की जानकारी प्राप्त करने हेतु विभिन्न प्रकार के ऑप्शन उपलब्ध हैं जैसे- CNR, केस स्थिति, कारण सूची और कैलेंडर। CNR केस सूचना प्रणाली के माध्यम से देश में जिला और तालुका न्यायालयों में दायर प्रत्येक मामले को सौंपा गया एक यूनिक नंबर है। CNR की मदद से कोई भी नागरिक अपने केस से संबंधित स्थिति और विवरण की जानकारी प्राप्त कर सकता है। इसके अलावा पार्टी का नाम, फाइलिंग नंबर, एफआईआर नंबर, वकील का नाम, केस और केस टाइप के प्रासंगिक अधिनियम जैसे विभिन्न विकल्पों द्वारा भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है। ओ केस विवरण कैप्शन केस टाइप, फाइलिंग नंबर, फाइलिंग दिनांक, पंजीकरण संख्या, पंजीकरण दिनांक और CNR Platform ऐप नंबर की जानकारी दिखाता है। ओ केस स्टेटस विकल्प पहली सुनवाई तिथि, अगली सुनवाई तिथि, केस स्टेटस, कोर्ट नंबर और न्यायाधीश के पदनाम की जानकारी भी दिखाता है। ओ केस याचिकाकर्ता और वकील, उत्तरदायी और वकील, अधिनियम, केस सुनवाई, निर्णय और आदेश का इतिहास, हस्तांतरण विवरण का विस्तारपूर्वक लेखा-जोखा देखा जा सकता है। ओ केस द्वारा सुनवाई का इतिहास, सुनवाई की पहली तारीख से सुनवाई की वर्तमान तारीख और मामले के पूरे इतिहास को दिखाता है।

eCourts सेवा ऐप न्यायिक प्रक्रिया को गुणात्मक और मात्रात्मक तरीके से बढ़ाने, न्याय प्रणाली को सस्ती, किफायती और नागरिकों के लिए पारदर्शी बनाने में मदद करेगा। नागरिक भारत के विभिन्न जिला न्यायालयों द्वारा प्रदान की जा रही ऑनलाइन सेवाओं की जानकारी और सूचनाएं आसानी से प्राप्त कर पाएंगे। इस ऐप के अंतर्गत सभी प्रदेशों के लिए वाद- प्रतिवाद की जानकारी भी कई विकल्पों – जैसे कि एफआईआर, पार्टी का नाम, वकील के नाम के आधार पर उपलब्ध है। इस ऐप पर भारत के उच्चतम न्यायालय और उच्च न्यायालयों की वेबसाइट के लिंक भी उपलब्ध हैं।

रजनीकांत ने लॉन्च किया सोशल मीडिया ऐप Hoote, जानिए क्या कर पाएंगे आप?

Hoote ऐप लॉन्च कर दिया गया है. इस वॉइस आधारित सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में रजनीकांत की बेटी सौंदर्या को-फाउंडर हैं.

Hoote ऐप लॉन्च कर दिया गया है. इस वॉइस आधारित सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में रजनीकांत की बेटी सौंदर्या को-फाउंडर हैं.

Hoote ऐप लॉन्च कर दिया गया है. इस वॉइस आधारित सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में रजनीकांत की बेटी सौंदर्या को-फाउंडर हैं. इस प् . अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated : October 26, 2021, 11:09 IST

नई दिल्ली. सुपरस्टार रजनीकांत ने अपनी बेटी का सोशल सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Hoote लॉन्च कर दिया है. इस वॉइस आधारित सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में रजनीकांत की बेटी सौंदर्या को-फाउंडर हैं और उनके साथ हैं अम्टेक्स (Amtex) के सीईओ सनी पोकाला. इसे लॉन्च करने के बाद रजनीकांत ने ट्वीट किया ‘Hoote – Voice based social media platform, from India for the world.’ मतलब कि Hoote एक वॉइस आधारित सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म है जो भारत की तरफ से विश्वभर के लिए है.
इस प्लेटफार्म पर आप 60 सेकंड का लाइव वॉइस रिकॉर्डिंग अपलोड कर सकते हैं या फिर पहले से रिकॉर्डिंग कोई वॉइस अपलोड की जा सकती है. सोमवार को दिल्ली में दादा साहेब फाल्के अवार्ड लेने के बाद सुपरस्टार रजनीकांत ने कहा कि इस ऐप को लॉन्च करके भी बहुत खुश हैं.

रजनीकांत ने कहा कि लोग अब अपने विचारों और शुभकामनाओं को अपनी आवाज के जरिए एक्सप्रेस कर पाएंगे. बिल्कुल उसी तरह जैसे कि वह अपनी पसंद की भाषा में लिखते हैं. सुपरस्टार की बेटी सौंदर्या ने एनडीटीवी से बात करते हुए कहा कि सोशल मीडिया का फ्यूचर वॉइस है Platform ऐप और मैं इस चीज में बहुत मजबूती से भरोसा करती हूं. सौंदर्या ने कहा कि Hoote पर लोग अपने विचारों और भावनाओं को किसी भी समय कहीं से भी किसी भी भाषा में एक्सप्रेस कर सकते हैं.

क्या खास है इस ऐप में
Hoote के साथ आठ भाषाओं का सपोर्ट है जिनमें भारतीय और विदेशी दोनों शामिल हैं. Hoote में भारतीय भाषा के तौर पर तमिल, हिंदी, तेलूगु, मराठी, मलयालम, कन्नड़, बंगाली और गुजराती का सपोर्ट है. Hoote को इस तरीके से डिजाइन किया गया है कि यूजर्स बिना कुछ टाइप किए बोलकर मैसेज भेज सकेंगे. मतलब ये कि Platform ऐप Hoote एक वॉइस नोट एप है. एक बार वॉइस नोट रिकॉर्ड करने के बाद यूजर्स उसमें अपने अनुसार म्यूजिक और तस्वीरें जोड़ पाएंगे.

Hoote एप को गूगल प्ले-स्टोर से मुफ्त में डाउनलोड किया जा सकता है. एप को इस्तेमाल करने से पहले रजिस्ट्रेशन करना होगा. एप में यूजर्स रजनीकांत, गौतम गंभीर, न्यूज चैनल, राजनेता जैसे सेलेब्रिटी को फॉलो कर सकेंगे. एप में मौजूद वॉइस नोट को आसानी से प्ले और पॉज़ किया जा सकेगा. इसमें लाइक, री-पोस्ट और री-शेयर जैसे विकल्प मिलेंगे.

Hoote एप के यूजर्स अधिकतम 60 सेकेंड का वॉइस नोट रिकॉर्ड कर सकेंगे. रिकॉर्डिंग के बाद कैप्शन, बैकग्राउंड म्यूजिक और इमेज एड किए जा सकेंगे. म्यूजिक के लिए इमोशन, इनवायरमेंटल, नेचर, रिलीजनल और नेटिव जैसे विकल्प मिलेंगे. Hoote एप में कॉमेंट बंद करने का भी विकल्प है. कैप्शन के लिए अधिकतम 120 शब्द का विकल्प मिलेगा.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार ने वर्चुली किया मानसिक-स्वास्थ्य डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म MANAS को लॉन्च

प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार ने वर्चुली किया मानसिक-स्वास्थ्य डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म MANAS को लॉन्च |_40.1

प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार ने वर्चुली किया मानसिक-स्वास्थ्य डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म MANAS को लॉन्च |_60.1


Welcome to the Current Affairs Section of Adda247. If you are preparing for Government Job Exams, then it is very important for you to read the Daily Current Affairs. All the important updates based on current affairs are included in this Daily Current Affairs 2022 article.

रेटिंग: 4.84
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 432
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *