विशेषज्ञों के कुछ सुझाव

लीज फाइनेंस

लीज फाइनेंस
कुछ लोगों का कहना है कि यह वही मुख्यमंत्री हैं जिनका नाम डंपर के मामले में भी आया था। इस दौरान चर्चा है कि हाईकोर्ट में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के खिलाफ पत्थर की खदान के पट्टे को लेकर एक याचिका दाखिल हुई है। उनके पास खनिज विभाग भी है। भारत की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया India national news पर क्लिक करें.

कार लोन के लिए आवश्यक दस्तावेज

At your request, you are being redirected to a third party site. Please read and agree with the disclaimer before proceeding further.

This is to inform you that by clicking on the "Accept" button, you will be accessing a website operated by a third party namely . Such links are provided only for the convenience of the client and Axis Bank does not control or endorse such websites, and is not responsible for their contents. The use of such websites would be subject लीज फाइनेंस to the terms and conditions of usage as stipulated in such websites and would take precedence over the terms and conditions of usage of www.axisbank.com in case of conflict between them. Any actions taken or obligations created voluntarily by the person(s) accessing such web sites shall be directly between such person and the owner of such websites and Axis Bank shall not be responsible directly or indirectly for such action so taken. Thank you for visiting www.axisbank.com

Disclaimer

At लीज फाइनेंस your request, you are being redirected to a third party site. Please read and agree with the disclaimer before proceeding further.

This is to inform you that by clicking on the hyper-link/ok, you will be accessing a website operated by a third party namely Such links are provided only for the convenience of the Client and Axis Bank does not control or endorse such websites, and is not responsible for their contents. The use of such websites would be subject to the terms and conditions of usage as stipulated in such websites and would take precedence over the terms and conditions of usage लीज फाइनेंस लीज फाइनेंस of www.axisbank.com in case of conflict between them. Any actions taken or obligations created voluntarily by the person(s) accessing such web sites shall be directly between such person and the owner of such websites and Axis Bank shall not be responsible directly or indirectly for such action so taken. Thank you for visiting www.axisbank.com

मुख्यमंत्री ने खुद के नाम माइनिंग की लीज ले ली, चर्चाओं का बाजार गर्म- POLITICAL NEWS

नई दिल्ली। राजनीति के गलियारों से बड़ी खबर आ रही है। एक मुख्यमंत्री ने अपने ही नाम माइनिंग की लीज ले ली। सब कुछ बहुत कॉन्फिडेंशियल था लेकिन कहते हैं ना, ऊंट की चोरी नोहरे-नोहरे नहीं हो सकती। बात दिल्ली तक आ ही गई है।

मुख्यमंत्री के नाम का खुलासा नहीं हुआ है। पार्टी का नाम भी नहीं बताया गया है। लेकिन सूत्र विश्वसनीय है। यह भी बताया गया है कि लीज फाइनेंस मुख्यमंत्री पिछले सप्ताह सफाई पेश करने के लिए दिल्ली आए थे लेकिन बात नहीं बनी। कुर्सी खतरे में है। एक अन्य सूत्र का कहना है कि मुख्यमंत्री को पता था कि वह कुर्सी पर ज्यादा समय तक नहीं रह पाएंगे और फिर बेटों के भविष्य का सवाल था। इसलिए उन्होंने नियम अनुसार लीज का आवंटन कर लिया।

भारत में महिंद्रा की कारें अब लीज पर भी उपलब्ध हैं, बिना किसी डाउन पेमेंट के

महिंद्रा लीज फाइनेंस ऑटोमोटिव ने बुधवार को कहा कि उसने वाहन और लीजिंग सब्सक्रिप्शन प्लेटफॉर्म क्विकलीज के साथ करार किया है, जो ग्राहकों को परेशानी मुक्त तरीके से महिंद्रा वाहनों को पट्टे पर देने की अनुमति देता है। महिंद्रा ऑटोमोटिव ने एक बयान में कहा कि इस सहयोग के बाद, प्लेटफॉर्म अब महिंद्रा ऑटो के पोर्टल और उसके डीलरशिप नेटवर्क पर लाइव उपलब्ध होगा। प्लेटफॉर्म आठ शहरों - मुंबई, पुणे, दिल्ली, नोएडा, गुरुग्राम, बेंगलुरु, हैदराबाद और चेन्नई में ग्राहकों को सुविधा, लचीलापन और विकल्प प्रदान करेगा। मुख्य कार्यकारी अधिकारी वीजय नाकरा ने कहा, "'पे पर यूज' मॉडल को विशेष रूप से ग्राहकों की बदलती जरूरतों को लीज फाइनेंस ध्यान में रखते हुए डिजाइन किया गया है। हमारे बिक्री चैनलों के माध्यम से ग्राहकों को लीजिंग विकल्प प्रदान करने से ग्राहकों को लचीलापन और पारदर्शिता मिलेगी।".

1662 हैक्टेयर बनास नदी क्षेत्र में मिली अनुमति

पातलियां घांट से बजरी का खनन शुरू, लीज फाइनेंस ट्रकों की लगी कतार
राजमहल. करीब चार साल बाद शुक्रवार रात 12 बजे बाद लीज धारकों ने देवली क्षेत्र की बनास नदी में खनिज विभाग के नियम व शर्तो की पूर्ति कर पूजा अर्चना के साथ बजरी का खनन शुरू कर दिया है।

1662 हैक्टेयर बनास नदी क्षेत्र में मिली अनुमति

1662 हैक्टेयर बनास नदी क्षेत्र में मिली अनुमति
पातलियां घांट से बजरी का खनन शुरू, ट्रकों की लगी कतार
राजमहल. करीब चार साल बाद शुक्रवार रात 12 बजे बाद लीज धारकों ने देवली क्षेत्र की बनास नदी में खनिज विभाग के नियम व शर्तो की पूर्ति कर पूजा अर्चना के साथ बजरी का खनन शुरू कर दिया है।

लीज धारक ने देवली उपखंड क्षेत्र से गुजर रही बनास नदी के राजमहल, भगवानपुरा, सतवाडा, संथली, बंथली आदि गांवों के निकट नदी तन क्षेत्र की कुल 1662 हैक्टेयर भूमि में बजरी खनन को लेकर खनिज विभाग की ओर से हरी झंडी मिलने के बाद शनिवार से नदी में पौकलेंड मशीनों से ट्रकों में बजरी भरने का कार्य शुरू कर दिया गया है।

कार सवार चार फाइनेंस कर्मी शराब के नशे में गिरफ्तार

कार सवार चार फाइनेंस कर्मी शराब के नशे में गिरफ्तार

बोचहां (मुजफ्फरपुर), हिन्दुस्तान संवाददाता।

थाना क्षेत्र के बोचहां ममरखा चौक पर बुधवार शाम पुलिस ने जांच के दौरान नशे में धुत कार सवार चार युवकों को पकड़ा। सभी सीतामढ़ी के एक फाइनेंस कंपनी में काम करते हैं। थाना लाकर जांच करने पर सभी के शराब पीने की पुष्टि हुई। पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया। एसआई रंजना वर्मा के बयान पर इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।

प्रभारी थानाध्यक्ष एसएन सिंह ने बताया कि गिरफ्तार आरोपितों की पहचान गया के कोतवाली थाना क्षेत्र निवासी उत्पल कुमार, सारण जिले के तरैया थाना क्षेत्र निवासी मिथिलेश कुमार महतो, पटना के बेऊर थाना क्षेत्र निवासी अमित कुमार व सारण के बसंतपुर थाना क्षेत्र निवासी राहुल कुमार के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि पेट्रोलिंग के दौरान ममरखा चौक पर वाहन जांच चल रही लीज फाइनेंस थी। इस दौरान कार सवार चार युवकों को रोका गया। सभी की तलाशी ली गई। इनके मुंह से शराब की गंध आ रही थी। इसके बाद सबको थाना लाकर जांच की गई।

रेटिंग: 4.17
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 95
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *