महत्वपूर्ण लेख

सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023

सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023
बजट में रोजगार सृजन से जुड़े सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘‘हम लोगों को हुनरमंद बनाकर उनकी क्षमता बढ़ा रहे हैं। ईसीएलजीएस (आपात ऋण सुविधा गारंटी योजना) के तहत गारंटी सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023 दायरे को 50,000 करोड़ बढ़ाकर पांच लाख करोड़ रुपये किया जाएगा। साथ ही इसकी समयसीमा बढ़ाकर मार्च, 2023 तक की गई है। अतिरिक्त सहायता विशिष्ट रूप से आतिथ्य और संबंधित उपक्रमों के लिए है। इससे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।’’ उन्होंने कहा कि बजट में रक्षा खरीद व्यय का 68 प्रतिशत हिस्सा स्थानीय उद्योगों से खरीद के लिए रखा गया है। साथ ही खाद्य प्रसंस्करण पर जोर दिया जा रहा है। इन सबसे रोजगार के अच्छे अवसर सृजित होंगे।

Baba Ka Dhaba : कांता प्रसाद ने मांगी यूट्यूबर गौरव से माफी कहा, कभी चोर नहीं बोला

Budget 2022: क्रिप्टोकरेंसी को लेकर क्या है सरकार का प्लान?, Cryptocurrency पर इसलिए लगाया 30% टैक्स

Written by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 01, 2022 21:03 IST

Cryptocurrency- India TV Hindi

Photo:PIXABAY

Highlights

  • क्रिप्टोकरेंसी से जो आमदनी होती है, हमने उस पर 30% टैक्स लगाया है- वित्त मंत्री
  • RBI 2022-23 में ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी आधारित डिजिटल रुपया पेश करेगा

नयी दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि क्रिप्टो करेंसी पर विचार-विमर्श जारी है और उसके बाद हम इस पर कायदे-कानून बनाने पर विचार करेंगे। बजट के बाद संवाददाताओं से बातचीत में सीतारमण ने कहा, ‘‘क्रिप्टो करेंसी पर हाल में विचार-विमर्श सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023 शुरू किया गया है। इसमें जो निष्कर्ष आता है, उसके आधार पर हम कानून लाने या अन्य किसी प्रस्ताव पर गौर करेंगे।’’

क्रिप्टोकरेंसी को लेकर मीडिया से बात करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि क्रिप्टोकरेंसी से जो आमदनी होती है, हमने उसपर 30 फीसदी का टैक्स लगाया है क्योंकि वो एक तरह की सम्पत्ति (Asset) है। जो डिजिटल करेंसी की बात है, वो आरबीआई जारी करेगी। सीतारमण ने कहा, हम हर ट्रांजैक्शन पर 1% टीडीएस लगाकर उसमें (क्रिप्टो करेंसी) पैसे के हर लेन-देन पर भी नज़र रख रहे हैं। अभी के लिए क्रिप्टो और क्रिप्टो संपत्ति क्या हैं, इस पर कोई चर्चा नहीं हुई।

मारुति की न्यू सस्ती एस-प्रेसो का फोटो आया सामने, इसमें न्यू ब्रेजा के जैसा फ्रंट मिलेगा; ये चेंजेस भी हुए

मारुति की न्यू सस्ती एस-प्रेसो का फोटो आया सामने, इसमें न्यू ब्रेजा के जैसा फ्रंट मिलेगा; ये चेंजेस भी हुए

मारुति सुजुकी की मिनी SUV यानी एस-प्रेसो (S-Presso) यूथ की फेवरेट कार में से एक है। इस कार में पर्याप्त जगह के साथ कई बेहतरीन फीचर्स भी मिलते हैं। सेफ्टी के लिहाज से भी ये बेहतर है। सबसे जरूरी बात ये लोगों के बजट में है। वहीं, इसका माइलेज काफी शानदार है। कुल मिलाकर ये ऐसा कॉकटेल है जो सभी को पसंद आ जाए। अब इस कार के डिजाइन को और भी अट्रैक्टिव बनाने का काम किया है SRK डिजाइन्स ने। इसने एस-प्रेसो को नए सिरे से डिजाइन करके कुछ रेंडर जारी किए हैं। माना जा रहा है कि 2023 में इस मिनी SUV को इसी डिजाइन के साथ लॉन्च किया जा सकता है। इस रेंडर को देखने के बाद आप इस मिनी SUV से नजर नहीं हटा पाएंगे। इसके मौजूद मॉडल की शुरुआती एक्स-शोरूम कीमत 4 लाख रुपए है।

Cryptocurrency : 100 रुपये में 2 लाख क्रिप्टोकरेंसी, जानें कहां है मौका, निवेश कितना है सुरक्षित ?

ryptocurrency to invest

निवेश के लिए क्रिप्टोकरेंसी का चलन का अब नया नहीं है लेकिन इसमें जोखिम की संभावना भी कम नहीं है. अगर आप क्रिप्टोकरेंसी में रुचि रखते हैं तो कम से कम पैसे में आप ज्यादा से ज्यादा क्रिप्टो कहां से खरीद सकते हैं यह जानना आपके लिए बेहद जरूरी है. आज एक से बढ़कर एक कई ऐप्स हैं जो आपको क्रिप्टोकरेंसी खरीदने में मदद करते हैं. मोबाइल पर कुछ बटन क्लिक करके आपको क्रिप्टोकरेंसी खरीद सकते हैं .

क्रिप्टोकरेंसी में सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023 ज्यादातर युवा निवेश कर रहे हैं, साथ ही बाजार में उतार चढ़ाव पर भी कड़ी नजर रखते हैं. एक वक्त था बिटकॉइन ने इस बाजार पर कब्जा कर रखा था लेकिन आज कई तरह के क्रिप्टोकरेंसी बाजार में है. अगर आज आप निवेश की सोच रहे हैं तो अलग- अलग क्रिप्टोकरेंसी की अलग- अलग कीमत है कई आज भी लाखों में है तो कई बेहद सस्ती है.

Baba Ka Dhaba : कांता प्रसाद ने मांगी यूट्यूबर गौरव से माफी कहा, कभी चोर नहीं बोला

100 रुपये में अलग कोई आपको 2 लाख से भी ज्यादा की क्रिप्टोकरेंसी का सौदा दे, तो शिबा इनु क्‍वाइन( (Shiba Inu Coin) क्रिप्टोकरेंसी की आजकल डिमांड बढ़ रही है. अगर आप एक क्रिप्टोकरेंसी खरीदना चाहते हैं तो आप यह .

000479 रुपये पर मिल जायेगा. यह इतने कम पैसों में मिल रहा है कि सही से इका अंदाजा लगाना भी मुश्किल है कि आखिर इसकी कीमत है कितनी तो आप इसे इस तरह समझिये की अगर आप 100 रुपये की शिबा इनु क्‍वाइनक्रिप्टोकरेंसी खरीदना चाहेंगे, तो आपको 208768 शिबा इनु क्‍वाइन क्रिप्टोकरेंसी मिलेंगी यानि दो लाख से भी ज्यादा.

यह क्रिप्टोकरेंसी तेजी से आगे बढ़ रहा है और इसकी ट्रेडिंग भी हो रही है इसकी कीमत में लगातार बढ़त तो कभी गिरावट दर्ज की जा रही है . पिछले कुछ दिनों से यह अधिकतम रेट 0.000523 रुपये का है, वहीं न्यूनतम रेट 0.000422 रुपये पर है.

बच्चे को दिया गया 16 करोड़ का एक इंजेक्शन, बॉलीवुड और किक्रेट स्टार्स ने भी की थी मदद के लिए अपील

भारतीय बैंकों ने इस क्रिप्टोकरेंसी की लेन देन पर कड़ी नजर रखी है. आरबीआई पहले भी क्रिप्टोकरेंसी के लेन देन से सावधान रहने की सलाह दी है. एसबीआई समेत कुछ बड़े बैंकों ने अपने ग्राहकों को सुझाव देते हुए आगाह किया है कि अगर उन्होंने ऐसा किया, तो उनका कार्ड कैंसिल भी किया जा सकता है हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल आरबीआई के निर्देश को गलत करार देते हुए कहा था कि आरबीआई सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023 यह साबित नहीं करता कि क्रिप्टोकरेंसी से जुड़ी फर्मों के चलने से रेगुलेटेड एंटिटीज को नुकसान हो सकता है.

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

क्या 2030 तक क्रिप्टोकरेंसी के मार्केट कैप में आएगा 100 गुना उछाल और निवेशकों की होगी बल्ले-बल्ले, जानिए एक्सपर्ट की राय

क्या 2030 तक क्रिप्टोकरेंसी के मार्केट कैप में आएगा 100 गुना उछाल और निवेशकों की होगी बल्ले-बल्ले, जानिए एक्सपर्ट की राय

TV9 Bharatvarsh | Edited By: सौरभ शर्मा

Updated on: Jan 09, 2022 | 6:50 AM

Cryptocurrency Outlook: पिछले दो सालों से क्रिप्टोकरेंसी की चर्चा चारों तरफ हो रही है. इसका कारण ये है कि इसने निवेशकों को महज कुछ महीने में मल्टी बैगर रिटर्न दिया है. कोरोना के कारण दुनिया भर के सेंट्रल बैंकों ने खूब पैसा छापा और सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023 यह पैसा डिजिटल करेंसी में निवेश किया गया. हालांकि, इस साल क्रिप्टोकरेंसी में करेक्शन का दौर दिख रहा है.

इकोनॉमिक टाइम्स में छपी रिपोर्ट में रियल विजन के सीईओ और गोल्डमैन सैक्श के पूर्व एंप्लॉयी राउल पॉल ने कहा कि 2030 तक क्रिप्टोकरेंसी का मार्केट कैप वर्तमान के मुकाबले 100 गुना ज्यादा हो जाएगा. वर्तमान में क्रिप्टोकरेंसी का टोटल मार्केट कैप 2 ट्रिलियन डॉलर से थोड़ा ज्यादा है. उनका कहना है कि 2030 तक यह 250 ट्रिलियन डॉलर के पार पहुंच जाएगा. इस हिसाब से क्रिप्टोकरेंसी एक ऐसी असेट क्लास होगी जिसमें सबसे ज्यादा ग्रोथ होगा. वर्तमान में ग्लोबल इक्विटी मार्केट, बॉन्ड मार्केट, रियल एस्टेट का टोटल मार्केट कैप करीब 250-350 ट्रिलियन डॉलर के बीच है.

350 करोड़ का यूजर बेस होना जरूरी

अपनी संभावनाओं पर बात करते हुए पॉल ने कहा कि अगर 2030 तक ग्लोबल क्रिप्टोकरेंसी यूजर्स की संख्या 3.5 बिलियन यानी 350 करोड़ तक पहुंच जाती है तो मार्केट कैप हर हाल में 250 ट्रिलियन डॉलर के पार होगा. इस संभावना को लेकर Giottus Cryptocurrency Exchange के को-फाउंडर और सीईओ विक्रम सबबूरज ने कहा कि यह तभी संभव है जब दुनिया की सरकारों और इंस्टिट्यूशन्स से क्रिप्टोकरेंसी को मान्यता मिले.

मार्केट के जानकारों का यह भी कहना कि वर्तमान में क्रिप्टोकरेंसी के मार्केट कैप में 25-30 फीसदी का करेक्शन आया है. यह अभी 2 ट्रिलियन डॉलर के करीब है. चारों तरफ से जिस सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023 तरह की खबरें आ रही हैं, उससे इस बात की पूरी संभावना है कि आने वाले दिनों में क्रिप्टोकरेंसी की स्वीकार्यता बहुत ज्यादा बढ़ेगी. अगले 10 सालों में यह एक टॉप असेट क्लास होगा. निवेशकों को यहां जितना रिटर्न मिलेगा, उतना रिटर्न गोल्ड या इक्विटी में नहीं मिलेगा.

42 हजार डॉलर के करीब बिटक्वॉइन

इस समय बिटक्वॉइन 42 हजार डॉलर के करीब है. जनवरी महीने में अब तक बिटक्वॉइन के मार्केट कैप में 80 बिलियन डॉलर से ज्यादा की गिरावट आई है. ऐसे में बिटक्वॉइन के 1 लाख डॉलर तक पहुंचने की संभावना पर बादल मंडराने लगे हैं. क्रिप्टो बाजार के जानकारों का कहना है कि यह अपने लक्ष्य तक जरूर पहुंचेगा, हालांकि इसमें देर होगी.

कोरोना काल में बिटक्वॉइन 65 हजार डॉलर के पार तक पहुंचा था जो अब तक का रिकॉर्ड हाई है. वर्तमान स्तर से 1 लाख डॉलर तक पहुंचने में बिटक्वॉइन में सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023 130 फीसदी से ज्यादा का उछाल जरूरी है. गोल्डमैन सैक्श के ऐनालिस्ट Zach Pandl ने पिछले सप्ताह कहा था कि अगर क्रिप्टोकरेंसी इसी तरह गोल्ड मार्केट में दखल बढ़ाता रहेगा तो बिटक्वॉइन 1 लाख डॉलर का आंकड़ा आसानी से पार कर जाएगा.

Also Read:

वित्त मंत्री ने यह भी घोषणा की कि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) जल्द ही अपनी डिजिटल मुद्रा लाएगा, जिसे सीबीडीसी (CBDC) या सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी कहा जाएगा. आरबीआई डिजिटल मुद्रा पर कई सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023 सस्ता क्रिप्टोकरेंसी 2023 महीनों से काम कर रही है और सीतारमण के मुताबिक, इसे अगले वित्तीय वर्ष में पेश किया जाएगा.

सीतारमण ने कहा कि आरबीआई की डिजिटल मुद्रा आने से डिजिटल अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिलेगा. डिजिटल मुद्रा भी अधिक कुशल और सस्ती मुद्रा प्रबंधन प्रणाली को बढ़ावा देगी.

डिजिटल संपत्ति के लिए कराधान की घोषणा के तुरंत बाद सीबीडीसी की घोषणा ने बहुत से लोगों को यह सोचकर भ्रमित कर दिया कि सीबीडीसी पर भी कर लगाया जाना चाहिए. हालांकि, ऐसा बिल्कुल नहीं है. डिजिटल मुद्राएं क्रिप्टोकरेंसी या एनएफटी जैसी डिजिटल संपत्ति नहीं हैं. डिजिटल मुद्राएं सरकार द्वारा जारी मुद्रा के इलेक्ट्रॉनिक रूप हैं, जबकि क्रिप्टोकरेंसी मूल्य का एक भंडार है जो एन्क्रिप्शन द्वारा सुरक्षित है. लोगों ने विशेष रूप से महामारी के दौरान जिन डिजिटल वॉलेट का उपयोग करना शुरू किया, उनमें डिजिटल मुद्रा और क्रिप्टोकरेंसी दोनों हो सकते हैं, लेकिन वे वास्तव में विनिमेय नहीं हैं.

रेटिंग: 4.37
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 266
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *